Wednesday, May 9, 2007

एयरबस A380: बड़ा है तो बेहतर है

अभी थोड़ी देर पहले ही मुंबई से वापस दिल्ली लौटा हूं। ये दौरा अचानक ही हुआ। लेकिन इसके पीछे वजह बिल्कुल अलग तरह की रही। किंगफिशर एयरलाईन्स ने एयरबस A380 में उड़ान भरने का न्योता दिया तो मैं तुरंत तैयार हो गया। कई पत्रकारों, कुछ नेताओं और ज़्यादातर एयरलाईन्स कर्मियों को लेकर इस विमान ने मंगलवार यानी 8 मई को दिल्ली से मुंबई तक की उड़ान भरी। दुनिया के सबसे बड़े विमान पर उड़ान का मेरा क्या अनुभव रहा जल्द ही आप सबों के साथ शेयर करुंगा। बस ज़रा यहां उकेरने की फुर्सत पा जाउं। इस यात्रा की एक झलक हमारे चैनल एनडीटीवी इंडिया पर दिखायी जा रही है। जल्दी ही पूरी कहानी के साथ हाज़िर होता हूं।

शुक्रिया

4 comments:

अविनाश said...

इंतज़ार है...

Sudhir said...

एयरबस ए-380 पर याॼा के लिए बधाई ,आपकी याॼा के अनुभव जाहिर अलग ही रहे होगें। आपके एयरबस के अनुभवों का इंतजार है..........
सुधीर कुमार
डी डी न्यूज़

Sudhir said...

आपके एयरबस के अनुभव जाहिर है अच्छे ही रहे होगें। जल्दी ही सभी को उनसे रूबरू कराइए

सुधीर कुमार
डी डी न्यूज़

Rajesh Roshan said...

Maaf kijiyega lekin shayad aap kuch jayada hi khush ho rahe hain shayad lsiye bol rahe hain ya fir aap apne channel ke english 24 7 ko nahi dekhte hain. Kal ka (8 may) ka WITNESS nahi dekha. BIG = BIG Pollution. Agar mil jaye to jaroor dekhiyega.

Waise Airbus mein safar karne par jo aapko harsh ho raha hai wo mujhe bhi hota :) lekin hume in sabke alwa bhi kuch sochna chahiye. Jo witness mein dikha.